रविवार, 16 मई 2010

एसडीओ की गाड़ी ने दो को कुचला

दुर्ग, 16 मई। वन विभाग के एसडीओ की वाहन ने कल दो लोगों को कुचल दिया। दुर्घटना में एक बच्चे की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि एक किशोर घायल हो गया। वाहन एसडीओ खुद चला रहे थे। पुलिस ने उनके विरूद्ध अपराध पंजीबद्ध किया है।

जानकारी के मुताबिक, कवर्धा जिले के सहसपुर लोहारा में पदस्थ वन विभाग के एसडीओ आर.एल. साहू की तवेरा कार की ठोकर से शनिवार की शाम सायकल सवार एक 12 वर्षीय बच्चे की मौत हो गई। वहीं एक अन्य युवक घायल हो गया। हादसे की वजह तवेरा वाहन का तेज रफ्तार में होना बताया गया हैं। घटना धमधा थाना के ग्राम पेंड्री की हंै। मृत बच्चा धनराज साहू 12 वर्ष पिता सुरेश साहू ग्राम बिरझापुर धमधा का निवासी था। घायल रामप्रसाद साहू 17 वर्ष भी ग्राम बिरझापुर का ही रहने वाला हैं। मामले में धमधा पुलिस ने तवेरा कार क्र. सीजी 04 सीजे 1991 के चालक व वन विभाग के एसडीओ आर.एल. साहू के खिलाफ धारा 279, 337 व 304 ए के तहत अपराध दर्ज किया गया हैं।

पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक वन विभाग के एसडीओ आर.एल. साहू शनिवार की शाम अपने तवेरा कार से किसी काम के चलते दुर्ग आए हुए थे। शाम को वे सहसपुर लोहारा वापस लौट रहे थे। वे शाम को करीब 5 बजे धमधा थानांतर्गत ग्राम पेंड्री के पास पहुंचे थे। तभी उनकी कार ने सायकल सवार दो लोगों को ठोकर मार दी। हादसे में सायकल सवार 12 वर्षीय धनराज साहू की मौके पर ही मौत हो गई। जबकि एक अन्य रामप्रसाद साहू 17वर्ष को चोंटे आई हैं। बताया गया हैं हादसे के समय खुद एसडीओ आर.एल. साहू तवेरा कार चला रहे थे। बच्चे व युवक को पीछे से तवेरा कार ने ठोकर मारी थी। लिहाजा तवेरा कार चालक की लापरवाही साफ उजागर हो रही हंै। दुर्घटना के वक्त तवेरा तेज रफ्तार में थी। मामले को धमधा पुलिस ने गंभीरता से लिया और तवेरा कार चालक एसडीओ आर.एल. साहू के विरुद्ध अपराध दर्ज किया गया हैं।

7 टिप्‍पणियां:

  1. अर्शिया

    * लिंग: स्त्री
    * व्यवसाय: होम मेकर
    * स्थान: लखनऊ : उत्‍तर प्रदेश : भारत

    मेरे ब्‍लॉग

    टीम सदस्य
    TSALIIM मनीष मोहन गोरे महामंत्री - तस्लीम कविता Arvind Mishra zeashan zaidi ज़ाकिर अली ‘रजनीश’
    Science Bloggers' Association अंकुर गुप्ता हिमांशु । Himanshu Abhishek Mishra गिरिजेश राव Darshan Lal Baweja जी.के. अवधिया दिनेशराय द्विवेदी Dineshrai Dwivedi दीपक 'मशाल' शैलेश भारतवासी कविता Dr Praveen Kumar Shrivastava Dr Parveen Arvind Mishra RC Mishra zeashan zaidi Ayush mittal संजय ग्रोवर Sanjay Grover Priya Science Bloggers Association 19 more

    उत्तर देंहटाएं
  2. अर्शिया

    * लिंग: स्त्री
    * व्यवसाय: होम मेकर
    * स्थान: लखनऊ : उत्‍तर प्रदेश : भारत

    मेरे ब्‍लॉग

    टीम सदस्य
    TSALIIM मनीष मोहन गोरे महामंत्री - तस्लीम कविता Arvind Mishra zeashan zaidi ज़ाकिर अली ‘रजनीश’
    Science Bloggers' Association अंकुर गुप्ता हिमांशु । Himanshu Abhishek Mishra गिरिजेश राव Darshan Lal Baweja जी.के. अवधिया दिनेशराय द्विवेदी Dineshrai Dwivedi दीपक 'मशाल' शैलेश भारतवासी कविता Dr Praveen Kumar Shrivastava Dr Parveen Arvind Mishra RC Mishra zeashan zaidi Ayush mittal संजय ग्रोवर Sanjay Grover Priya Science Bloggers Association 19 more

    उत्तर देंहटाएं
  3. "लोग कहते है ,


    "दर्द" में भी तुम कैसे "मुस्कुराते" हो ?


    मैंने कहा ,


    ये "दर्द" से ही पुछो


    "मुस्कुराना "मैंने "दर्द" से ही सिखा है

    उत्तर देंहटाएं
  4. Diabetes is a chronic life disease which has affected people all over the world.

    It's more important in view of the fact that the incidence and prevalence of Diabetes is increasing in endemic proportions and in another 10 years the number of diabetic patients in world will just be double.

    उत्तर देंहटाएं
  5. " दर्द और मुस्कुराहट "

    "लोग कहते है ,


    "दर्द" में भी तुम कैसे "मुस्कुराते" हो ?


    मैंने कहा ,


    ये "दर्द" से ही पुछो


    "मुस्कुराना "मैंने "दर्द" से ही सिखा है

    उत्तर देंहटाएं
  6. जहां देखो लोग गरमी का रोना रो रहे है। हर आदमी परेशान है। जहां देखों वहां बस गरमी की ही चर्चा है। क्या रेडियो, क्या टीवी, क्या अखबार हर जगह यही बात हो रही है की इस बार बहुत गरमी हो रही है। टीवी पत्रकार तो सड़को पर लोगों को रोक रोक कर पूछ रहे है-भाईसाहब, बहुत गरमी है? आपको कैसा लग रहा है? अब भले आदमी, गरमी है तो हर किसी को गरमी ही लगेगी न, आपके पूछने से सर्दी तो नहीं लगने लगेगी। पर वे भी क्या करें, उनका अपना चैनल है जिसे उन्हें चौबीसों घंटे चलाना है। मजबूरी है। गरमी पहले भी होती थी, पर इतनी नहीं होती थी। टीवी थे नहीं जो पल पल चढ़ते पारे की सूचना दें। इसलिए गरमी का अहसास भी कम था।

    उत्तर देंहटाएं